भोजन पोषण एवं स्वच्छता | Food Nutrition and Hygiene in Hindi

Food nutrition and hygiene यह दोनो हमारे जीवन के लिए बहुत महत्वपूर्ण हैं। यह हमारे शरीर की न्यूट्रीशन को पूरा करने और बीमारियों से हमारी रक्षा करता है।

Food nutrition and hygiene यह दोनो हमारे जीवन के लिए बहुत महत्वपूर्ण हैं। यह हमारे शरीर की न्यूट्रीशन को पूरा करने और बीमारियों से हमारी रक्षा करता है। हमे इसके महत्व को समझना बहुत जरूरी है। तभी हम एक गुड हैल्थ के नियम का पालन कर सकते हैं। अगर हम सही न्यूट्रीशन ले तो हम अपने शरीर की हैल्थ को उच्चतम स्तर पे ले जा सके है। Food Nutrition के साथ साथ Hygiene का भी ध्यान रखना हमारा उतना ही कर्त्तव्य है, हाइजीन हमारी बॉडी को बीमारियों से दूर रखने में सहायक होता है।

Food Nutrition – फूड न्यूट्रीशन

फूड न्यूट्रीशन दो प्रकार के होते है। मैक्रो न्यूट्रिएंट्स और माइक्रो न्यूट्रिएंट्स। मैक्रो न्यूट्रिएंट्स में carbohydrates, protein और fats जैसे पोषक तत्व मवजूद होते है। व्ही माइक्रो न्यूट्रिएंट्स में vitamins और mineral जैसे पोषक तत्व मवजूद होते हैं।

Carbohydrates शरीर के लिए एक अच्छा एनर्जी स्रोत माना जाता है। यह अनाज, फल और सब्जियों केसे फूड में पाया जाता है। Protein शरीर की बनावट जैसे ग्रोथ, मरम्मत और उत्तकों की वृद्धि के लिए जाने जाते हैं। यह मीट, और डेयरी जेसी चीजों में पाए जाते है। Fats हमारे शरीर के एनर्जी को जमा करने में हमारी मदद करते है। यह हार्मोन्स के उत्पादक में काफी सहायक है। फैट्स तेल, नट्स और मछली में पाए जाते है।

Vitamin और mineral यह दोनो ही हमारे शरीर के लिए बहुत ही महत्वपूर्ण है। यह भिन्न प्रकार के बॉडी के लिए जरूरी है। अगर यह हमारे शरीर में ज्यादा हो जाए तो नुकसान पहुंचा सकती है। इसलिए यह हमारे शरीर को थोड़ा ही पर बहुत जरूरी हैं। Vitamin जैसे की विटामिन C और विटामिन D हमारे शरीर के इम्यून सिस्टम का समर्थन और हड्डियों के विकास में सहायक होते हैं। यह कई फलों और सब्जियों में पाए जाते हैं। Mineral जैसी की कैल्शियम, आयरन और पोटेशियम हमारे शरीर में हड्डियो का विकास करते है खून बनाते और भी नर्व सेल्स के फंक्शन में काम करते है।

फूड न्यूट्रीशन में हमने मैक्रो न्यूट्रिएंट्स और माइक्रो न्यूट्रिएंट्स के बारे में जाना है। यह हमारे शरीर के विकास के लिए भूत जरूरी है। इसका सेवन हमे जरूरत अनुसार प्रतिदिन करना ही चाहिए।

Hygiene Practices – स्वच्छता आचरण

कोई भी भोजन खाने से पहले हमें स्वच्छता का पूरा ध्यान रखना चाहिए। फल, सब्जियों और अनाज बनाने से पहले या खाने से पहले अच्छे से धो ले ताकि फूड पॉयजन बीमारियों से बचा जा सके। स्वच्छता को अपनाने के नियम:

  1. Handwashing – खाना बनाने से पहले या कुछ भी खाने से पहले अपने हाथों को किसी अच्छे साबुन से 15 से 20 सेकंड धोए । अगर हाथो को हल्के गर्म पानी से धोया जाए तो ओर भी अच्छा है। हाथो को धोने से गंदे हाथो से फैलने वाली बीमारी से बचा जा सकता है।
  1. फलों और सब्ज़ियों को साफ बर्तनों में जरूर रखें। ताकि हाइजीन का ध्यान रखा जा सके और बीमारियों से भी बचा जा सके।
  1. सब्जियों को पकाना बहुत जरूरी है क्योंकी इससे सब्जियों में मौजूद बैक्टीरिया मार जाते है। इसलिए सब्जियों को ठीक तापमान में पकाएं।

Hygiene का ध्यान रखना बहुत जरूरी है। कियोंकी फल और सब्जियां कोई भी सेफ नही है मिलावट सभी में होता है इसलिए फलों और सब्ज़ियों को अच्छे से साफ कर ले खाने से पहले। इसी के साथ हाथो को साफ करना ना भूले। फलों और सब्जियां रखने वाले बर्तनों को भी साफ सुथरा रखे। इस तरफ से बीमारी से बचा जा सकता है।

Impact of Food Nutrition and Hygiene 

Food nutrition and hygiene को मध्य नजर रखते हुए इसका प्रभाव हमारी सेहत में बहुत ही लाभदायक है। Nutrition हमारी शरीर को प्रफुलित करते है और Hygiene साफ सुथरा भोजन हमे होने वाली बीमारी से बचाता है। अच्छा संतुलित आहार हमारे इम्यून सिस्टम को बूस्ट करता है और स्वच्छता होने वाली इन्फेक्शन को काम krta hai or बीमारियों से दूर रखता है।

मां बाप अपने बच्चो का जरूर ध्यान रखे की वह हाइजीन का पूरा ध्यान रखे कोई भी आहार खाने से पहले। जिससे बच्चो को बिमारी से दूर रखा जा सकता है। इसलिए Food Nutrition and Hygiene हमारी दिन चर्या का एक महत्त्वपूर्ण कार्य है। हमें इसका पालन जरूर करना चाहिए। इससे हम अपने आप को बिमारी से बचा सकते है और शरीर का विकास अच्छे से कर सकते हैं। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *